Ice Cream Side Effects: गर्मियां शुरू हो गई हैं. तापमान 45 डिग्री सेल्सियस को पार करने लगा है. इतनी गर्मी पड़ने पर बॉडी गर्म होने लगती है. बॉडी का तापमान बढ़ने लगता है. लोग ठंडा रहने के लिए ठंडा पानी पीते हैं या फिर आइसक्रीम खा लेते हैं. ठंडे पेयपदार्थ पीना भी लोग पसंद करते हैं. वहीं कुछ लोग अधिक ठंडा होने के चक्कर में एक दो नहीं, कई सारी आइसक्रीम  खा जाते हैं. यदि आप गर्मियों में इतनी आइसक्रीम खा रहे हैं या इन्हें खाने के शौकीन हैं तो इसके नुकसान भी जान लें. 

मोटापा होना

कई स्टडी में सामने आया है कि आइसक्रीम में बहुत अधिक शुगर और कैलोरी होती है. यह शरीर में फैट को बहुत तेजी से बढ़ाने का काम करती है. इससे मोटापा तो आता है, साथ ही कई और बीमारी होने का खतरा रहता है. विशेषज्ञों का कहना है कि यदि 3 से 4 आइसक्रीम हर दिन खा लेते हैं तो इससे 1000 से अधिक कैलोरी बॉडी को मिल जाती हैं. यह बेहद परेशान करने वाला है. 

हार्ट डिसीज होने का खतरा

आइसक्रीम में सैचुरेटेड फैट पाया जाता है. इससे बॉडी ट्राइग्लिसराइड्स और कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ता है. इससे जहां मोटापे की समस्या बढ़ती है. वहीं, कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के कारण हार्ट डिसीज होने का खतरा रहता है. यदि कोई पहले से हाइपरटेंशन का मरीज है तो उसे परेशानी कई गुना अधिक बढ़ सकती है. 

ब्रेन पर होता सीधा असर

एक अध्ययन में सामने आया है कि आइसक्रीम में सैचुरेटेड फैट और चीनी अधिक होता है. इस वजह से यह ब्रेन की प्रक्रिया प्रभावित करती है. इससे मैमोरी पॉवर कमजोर होती है. कम से कम आइसक्रीम खाने की कोशिश करनी चाहिए. 

डायबिटीक पेशेंट बचकर रहें

जिन लोगों का डायबिटिक लेवल बॉर्डर पर है या फिर डायबिटीज हैं. उन्हंे आइसक्रीम नहीं खानी चाहिए. जिनके जेनेटिक डिसऑर्डर बना हुआ है. उन्हें भी आइसक्रीम खाने से बचना चाहिए. 

ये भी पढ़ें: मशरूम बिजनेस को 7.5 लाख रुपये सब्सिडी दे रही ये राज्य सरकार, किसान भाई फटाफट रजिस्ट्रेशन करा लें



Source link