Ashraf Ahmed Killed: प्रयागराज में मेडिकल चेकअप के दौरान जाते समय अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इन दोनों को मारने वाले तीनों हत्यारे प्रयागराज जिले के रहनेवाले नहीं हैं. तीनों आरोपी प्रयागराज से बाहर के हैं और पिछले तीन दिनों ये यहां रेकी कर रहे थे. शुक्रवार (14 अप्रैल) भी तीनों हमलावर इस जगह पर आए थे, जहां इन्होंने घटना को अंजाम दिया. फिलहाल यूपी एसटीएफ (STF) तीनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है.

आरोपियों ने क्या-क्या कबूल किया?

पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने कई राज खोले हैं. आरोपियों ने कबूल किया कि वे कुछ दिन पहले से अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ को मारने का प्लान बना रहे थे. पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि कोर्ट से कस्टडी में मिलते ही अतीक अहमद और अशरफ को मारने का प्लान बनाया गया था. आरोपियों के द्वारा मीडिया चैनल की तरह एक नया माइक अरेंज किया गया, ताकि कोई उन पर शक न करे. आरोपी लवलेश, सन्नी, अरुण मीडियाकर्मी बनकर लगातार कवरेज के दौरान साथ घूम रहे थे.

15 अप्रैल (शनिवार) को मेडिकल चेकअप के लिए जाने के दौरान मडिया बाइट लेने की कोशिश में थी, तभी आरोपियों ने फायरिंग शुरू कर दी. इस घटना के बाद पुलिस-प्रशासन एक्शन में आ गई है. इस मामले को लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी ने सख्त आदेश देते हुए भड़काऊ पोस्ट करने वाले और अफवाह फैलाने वालों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं.

इसके साथ ही यूपी पुलिसकर्मियों की छुट्टियों को रद्द कर और तत्काल ड्यूटी पर आने के निर्देश दिए गए. अतीक अहमद के साथ-साथ उसके बेटे और पत्नी का एक लंबा आपराधिक इतिहास रहा है. प्रयागराज में उमेश पाल हत्याकांड के बाद अतीक अहमद की पत्नी पर भी मुकदमा दर्ज कराया गया था. अतीक अहमद की हत्या के दो दिन पहले झांसी में उसके बेटे असद का एनकाउंटर किया गया था.

ये भी पढ़ें: Atiq Ahmed Shot Dead: अतीक अहमद और अशरफ की गोली मारकर हत्या, प्रयागराज मेंं मेडिकल के लिए ले जाते समय हुई फायरिंग



Source link