Asad Ahmed Encounter: अतीक अहमद (Atiq Ahmed) के बेटे असद अहमद और उसके एक सहयोगी शूटर गुलाम की यूपी एसटीएफ द्वारा एनकाउंटर में मौत के बाद राजनीति शुरू हो गई है. सपा जहां इसे लेकर बीजेपी पर लगातार निशाना साध रही है तो वहीं बीजेपी भी पलटवार कर रही है. इस बीच असद और गुलाम के एनकाउंटर पर समाजवादी पार्टी की विधायक और मारे गए राजू पाल की पत्नी पूजा पाल की प्रतिक्रिया सामने आई है. सपा विधायक पूजा पाल ने कहा है कि, ‘अपराधी की जो सजा होती है वह शासन प्रशासन दे रहा है, किसी का भी हो जो कानून हाथ में लेगा तो जिसकी जैसी सजा है उसके लिए बनी है’. बता दें कि ये दोनों राजू पाल हत्याकांड में गवाह उमेश पाल की हत्या में आरोपी थे और फरार चल रहे थे. पुलिस पिछले डेढ़ महीने से इनकी तलाश कर रही थी. 

पूजा पाल के इस बयान से साफ है कि वे भी इस मामले में पार्टी लाइन से हटकर कुछ भी बोलने से बच रही हैं. उनकी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव इस एनकाउंटर को लेकर योगी आदित्यनाथ सरकार को लगातार घेर रहे हैं. सपा इसे फेक एनकाउंटर बता रही है. बता दें कि पूजा पाल मारे गए उमेश पाल की बहन भी हैं. डेढ़ महीने पहले गवाह उमेश पाल की भी प्रयागराज में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इसके पहले पूजा ने कहा था कि अब अतीक का साम्राज्य खत्म हो जाएगा. उन्होंने यह भी कहा था कि माफियाओं की जाति और धर्म नहीं होती.

शाइस्ता कर सकती है सरेंडर
वहीं असद और उसके सहयोगी शूटर के शव का पोस्टमार्टम हो चुका है. पुलिस शव ले जाने के लिए उनके परिजनों का इंतजार कर रही है. अतीक के परिवार पर लगातार शिकंजा कसता जा रहा है. एक तरफ जहां कोर्ट में मुश्किलें बढ़ रही हैं तो वहीं पुलिस का खौफ भी सता रहा है. अतीक की पत्नी शाइस्ता परवीन अभी भी फरार चल रही है. यूपी पुलिस को उसकी तलाश है और उसपर इनाम भी घोषित किया गया है. बताया जा रहा है कि बेटे के अंतिम दर्शन करने के लिए वह आज सरेंडर कर सकती है.

Asad Ahmed Encounter: असद अहमद के एनकाउंटर पर डिंपल यादव की पहली प्रतिक्रिया, जानें क्या बोलीं सपा सांसद





Source link