Digvijaya Singh on Hindu Rashtra: कर्नाटक के हुबली में कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ‘हिन्दू राष्ट्र’ और ‘हिन्दुत्व’ को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि ये ‘सॉफ्ट’ या ‘हार्ड’ हिन्दुत्व जैसी कोई चीज नहीं होती है. इतना ही नहीं, दिग्विजय सिंह ने सावरकर का भी नाम लिया. उन्होंने कहा कि ‘हिंदुत्व’ शब्द के रचयिता सावरकर हैं और उन्होंने ही कहा है कि ‘हिंदुत्व’ का हिंदू या सनातन धर्म से कोई संबंध नहीं है. संविधान की शपथ लेकर काम करने वाला कोई भी व्यक्ति ‘हिन्दू राष्ट्र’ की बात करता है तो उन्हें पहले अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए. उसके बाद ही कुछ कहना चाहिए. 

दिग्विजय सिंह ने आगे कहा, ‘हिन्दू राष्ट्र या इस्लाम राष्ट्र की बात नहीं है. ये देश सबका है. हमारे देश में हिन्दुओं के साथ-साथ मुसलमान, ईसाई, सिख, जैन, बौद्ध और सभी धर्मों ने आज़ादी की लड़ाई लड़ी है. क्या शहीद भगत सिंह के साथ अशफाकुल्लाह को फांसी नहीं दी गई थी? ये देश सबका है. कमलनाथ के बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है.’

हिन्दू राष्ट्र को लेकर कमलनाथ ने दिया था यह बयान
दिग्विजय सिंह का कहना है कि कमलनाथ के बयान को तोड़-मरोड़ कर पेश किया जा रहा है. वे जिस बयान की बात कर रहे हैं वह हाल ही में कमलनाथ ने मीडिया के सामने दिया था. कमलनाथ ने कहा था कि भारत में 82 फीसदी हिंदू हैं. ऐसे में भारत पहले से ही हिंदू राष्ट्र है, इसके बाद में अलग से बात करने की क्या जरूरत? इस बयान के बाद मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कमलनाथ पर हमला बोला था. उन्होंने कमलनाथ को ‘चुनावी हिंदू’ बताया था जो इलेक्शन आने पर हिंदू होने का चोला ओढ़ लेते हैं. 

यह भी पढ़ें: Independence Day 2023: स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगे के रंग में रंग गए महाकाल, देशभक्ति और धार्मिक आस्था का अनूठा संगम

 



Source link