Kota News: नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (National Testing Agency) द्वारा आयोजित जेईई-मेन 2023 (JEE Mains-2023) के अप्रैल सेशन (April Session) की परीक्षाएं गुरूवार से शुरू हो गईं. अप्रैल सेशन के पहले दिन के प्रश्न पत्रों का स्तर जनवरी सेशन (January Session) में आयोजित प्रश्न पत्रों जैसा ही रहा. फिजिक्स और केमिस्ट्री के पेपर आसान रहे, जबकि मैथमेटिक्स (Mathematics) हमेशा की तरह डिफिकल्ट और लेंदी रहा. एजुकेशन एक्सपर्ट देव शर्मा (Dev Sharma) ने बताया कि 6 अप्रैल के प्रश्न पत्रों में भी जनवरी अटेम्प्ट की तरह ही कॉलम मैचिंग तथा असर्शन रीजन के प्रश्न भी पूछे गए. प्रश्नपत्र में अधिकतर प्रश्न फैक्ट और फामूर्ला बेस्ड रहे.

फिजिक्स में पूछे गए ये प्रश्न
गुरूवार को आयोजित किए गए मॉर्निंग शिफ्ट के प्रश्न पत्र में मैकेनिक्स, इलेक्ट्रोडायनेमिक्स और मॉडर्न फिजिक्स से काफी प्रश्न पूछे गए. मैकेनिक्स में ग्रेविटेशन, सर्कुलर मोशन, प्रोजेक्टाइल मोशन से, इलेक्ट्रोडायनेमिक्स में कैपेसिटर्स तथा मैग्नेटिक इफेक्ट ऑफ करंट से और मॉडर्न फिजिक्स में एटॉमिक स्ट्रक्चर, फोटो इलेक्ट्रिक इफेक्ट के अतिरिक्त कम्युनिकेशन सिस्टम से भी प्रश्न पूछे गए.

केमिस्ट्री में भी आसान रहा पेपर 
देव शर्मा ने बताया कि परीक्षार्थियों से चर्चा करने पर पता चला कि ऑर्गेनिक केमिस्ट्री में नेम रिएक्शन्स से संबंधित कॉलम मैचिंग टाइप का प्रश्न पूछा गया. इस प्रश्न में गाटरमेन काच, हेलवोल्हार्ड जेलिंस्की तथा इटा्रड रिएक्शंस पूछीं गईं. इनऑर्गेनिक केमिस्ट्री में पॉलीमर्स, केमेस्ट्री इन एवरीडे लाइफ तथा सरफेस केमेस्ट्री से स्तरीय प्रश्न पूछे गए. फिजिकल केमिस्ट्री में सॉल्यूशंस और केमिकल काइनेटिक्स से प्रश्न पूछे गए.

डिफिकल्ट और लेंदी रहा मैथमेटिक्स
विद्यार्थियों के अनुसार गणित का प्रश्नपत्र परंपरागत तौर पर डिफिकल्ट और लेंदी रहा. मैथमेटिक्स के प्रश्न पत्र में  कंपलेक्स नंबर, क्वाड्रेटिक इक्वेशंस, प्रोग्रेशंस से सामान्य प्रश्न पूछे गए. देव शर्मा ने बताया कि प्रश्न पत्र में अलजेब्रा, कैलकुलस, कोऑर्डिनेट ज्योमेट्री तथा वेक्टर 3डी सभी भागों से प्रश्न पूछे गए.

वस्तुनिष्ठ प्रश्नों में होगी नेगेटिव मार्किंग 
देव शर्मा ने बताया कि पूर्व घोषित पैटर्न के आधार पर जेईई मेंस के प्रश्न पत्र में कुल 90 प्रश्न पूछे गए. फिजिक्स, केमिस्ट्री तथा मैथमेटिक्स प्रत्येक विषय से 30-30 प्रश्न थे. प्रत्येक विषय में 20 प्रश्न वस्तुनिष्ठ और 10 प्रश्न न्यूमैरिक रेस्पांस के थे. न्यूमैरिक रेस्पांस टाइप के 10 प्रश्नों में से कोई 5 प्रश्न हल करने थे. सभी प्रश्नों में नेगेटिव मार्किंग +4/-1 की रही.

यह भी पढ़ें : Udaipur News: उदयपुर में सार्वजनिक जगहों पर धार्मिक झंडे या चिन्ह लगाने पर रोक, जिला प्रशासन का फैसला



Source link