Azamgarh News: समाजवादी पार्टी ने लोकसभा चुनाव 2024 के लिए अभी से तैयारी शुरू कर दी हैं और सपा मुखिया अखिलेश यादव एक बड़ा दांव खेलने जा रहे हैं. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव  कभी सपा के गढ़ रहे आजमगढ़ को फिर से जीतने के लिए चाचा शिवपाल यादव पर भरोसा  जता रहे हैं. माना जा रहा है कि साल 2024 के लोकसभा चुनाव में अखिलेश यादव अपने चाचा शिवपाल यादव को आजमगढ़ से सपा के टिकट पर उम्मीदवार बना सकते हैं. कहा जा रहा है कि इसके लिए आजमगढ़ सपा कार्यालय पर बैठक भी हो चुकी है और सपा नेताओं ने शिवपाल यादव के नाम पर मुहर भी लगा दी है.

वहीं इस पूरे मामले को लेकर सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता अशोक यादव ने कहा कि आजमगढ़ पार्टी कार्यालय पर ऐसी बैठक नहीं हुई बल्कि लखनऊ पार्टी कार्यालय में अखिलेश यादव ने आजमगढ़ के पदाधिकारियों की एक बैठक बुलाई थी. जिसमें पदाधिकारियों ने एकमत से यह कहा है कि आजमगढ़ सीट से अखिलेश यादव चुनाव लड़ें. यदि वह ऐसा नहीं करते तो यह सीट मुलायम सिंह यादव की परिवारिक सीट रही है तो ऐसे में परिवार के किसी सदस्य को ही सीट से चुनाव लड़ना चाहिए. मुलायम सिंह यादव के परिवार से किसी सदस्य के चुनाव लड़ने का फायदा आजमगढ़ के आसपास की सभी सीटों पर मिलेगा. इस बैठक में किसी ने किसी के नाम की चर्चा नहीं की है बल्कि बात परिवार के सदस्य को चुनाव लड़ने पर ही हुई है.

बता दें कि साल 2019 के लोकसभा चुनाव में इस सीट पर सपा नेता मुलायम सिंह यादव ने जीत दर्ज की थी और इसके बाद इस सीट पर अखिलेश ने भी साल 2019 के चुनाव बड़ी जीत दर्ज की. हालांकि फिर साल 2022 में हुए उपचुनाव में इस सीट पर सपा को हार का मुंह देखना पड़ा, सपा के उम्मीदवार धर्मेंद्र प्रधान को बीजेपी नेता दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ ने हराया था.

UP News: सीएम योगी के चिपका आंदोलन वाले बयान पर शिवपाल यादव का पलटवार, जानें- क्या बोले सपा नेता



Source link