Rajasthan Crime News: राजस्थान के बारां जिले में दो लोगों से 1.70 लाख रुपये की जबरन उगाही के आरोप में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है.इस मामले में मध्य प्रदेश पुलिस के तीन कर्मियों समेत चार लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी. पुलिस के मुताबिक आरोपी पुलिसकर्मियों ने छह जुलाई की रात को राजस्थान-मध्य प्रदेश सीमा के पास कथित तौर पर दो लोगों को रोका और उन्हें मध्य प्रदेश के चाचौड़ा पुलिस क्वार्टर में ले गए.पुलिस के मुताबिक शिकायतकर्ता 22 साल के वतन सिंह मीणा और 20 साल के शिवम यादव बारां के छबड़ा कस्बे के रहने वाले हैं.

पुलिस ने क्या जानकारी दी है

पुलिस ने बताया कि वतन और शिवम के अनुसार वे छह जुलाई की रात को बापचा गांव जा रहे थे.इस दौरान सादे कपड़ों में मध्य प्रदेश पुलिस के तीनकर्मियों राजीव, संजय और बलवीर ने उन्हें रोका और जबरन अपनी कार में बैठा लिया. तीनों पुलिसकर्मियों के साथ मोहित वकील नाम का एक वकील भी मौजूद था.

पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) गिरधर सिंह चौहान ने कहा कि आरोपी वतन और शिवम को चाचौड़ा पुलिस क्वार्टर में ले गए. वहां उन्हें स्वापक औषधि एवं मन प्रभावी पदार्थ (एनडीपीएस) अधिनियम के तहत एक मामले में फंसाने की धमकी देकर 1.70 लाख रुपये वसूल लिए.डीएसपी गिरधर सिंह चौहान के मुताबिक वतन और शिवम ने कुछ राशि मोहित को नकद के रूप में दी जबकि बाकी राशि ऑनलाइन माध्यम से दी.

इन धाराओं में दर्ज हुआ है मामला

डीएसपी के मुताबिक वतन और शिवम ने सोमवार को पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. इसके बाद मंगलवार को भारतीय दंड संहिता की धाराओं 384 (जबरन वसूली) और 364 ए (फिरौती के लिए अपहरण) और अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति अधिनियम के तहत बापचा पुलिस थाने में एक प्राथमिकी दर्ज की गई.

उन्होंने बताया कि जब आरोपी पुलिसकर्मियों को प्राथमिकी के बारे में पता चला, तो उन्होंने मंगलवार रात पीड़ितों को पैसे लौटाने के लिए पांच लोगों को भेजा.डीएसपी ने कहा कि एक गुप्त सूचना के बाद एक पत्रकार समेत इन पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने उनके कब्जे से 1.70 लाख रुपये बरामद किए है. पुलिस ने उनकी एसयूवी कार भी जब्त कर ली है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों ने स्वीकार किया कि वे पीड़ितों को पैसे लौटाने आए थे.

ये भी पढ़ें

President Draupadi Murmu Rajasthan Visit: कल से फिर शुरू होगा राजस्थान विधानसभा का सत्र, राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू संबोधित करेंगी



Source link