Noida News: नोएडा- ग्रेटर नोएडा (Noida-Greater Noida) में प्रॉपर्टी खरीदने वालों पर दोहरा बोझ पड़ने वाला है. सोमवार या मंगलवाार से यहां नई दरें लागू हो जाएंगी. इसके बाद यहां प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री करना महंगा हो जाएगा. नोएडा- ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने पिछले हफ्ते ही आवंटन दरों में इजाफा किया है. नोएडा- ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी दरों में बढ़ोतरी की तैयारी शुरू कर दी थी. इसके साथ ही निबंधन विभाग ने सर्किल रेट को भी बढ़ाने की तैयारी शुरू कर दी थी. निबंधन विभाग के अधिकारियों ने जानकारी दी कि नई दरें एक-दो दिन में लागू हो जाएंगी. इसके बाद प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री नई दरों  पर ही होगी.

वहीं अगर किसी प्रॉपर्टी का लेन-देन आवंटन दरों से अधिक पर हुआ है, तो उस पर ही रजिस्ट्री होगी. यही नए सर्किल रेट कहलाए जाएंगे. पिछली बार साल 2019 में सर्किल रेट लागू हुए थे. अभी तक इसी सर्किल रेट पर रजिस्ट्री हो रही थी, लेकिन अब नए आवंटन रेट पर ही खरीदारों को स्टांप देना होगा. वहीं अधिकारियों का कहना है कि जुलाई-अगस्त 2023 से नए सिरे से सर्किल रेट लागू किए जाएंगे. वहीं गावों में अभी भी पूराने सर्किल रेट पर ही जमीन की रजिस्ट्री होगी.

गांवों की जमीन अब भी फ्री होल्ड
इस पर प्राधिकरण का कहना है कि गांवों की जमीन अब भी फ्री होल्ड में है. क्योंकि प्राधिकरण गांवों की जमीन के आवंटन रेट तय नहीं करता है. इसीलिए अभी भी फ्री होल्ड जमीनों के रेट तय नहीं किए गए है. बता दें प्राधिकरण जिस रेट पर जमीनों की बिक्री करता है, वो आंवटन रेट कहलााते हैं, जबकि जिस प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री  की जाती है वो सर्किल रेट कहलाता है. गौरतलब है कि सेक्टर- 33 में छह रजिस्ट्रार कार्यालय हैं. इन सभी कार्यालयों में लाखों की प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री होती है. इसमें प्राधिकरण के फ्लैट, भूखंड और गांवों में स्थित आबादी की जमीन शामिल है.

Atiq Ahmed Murder: अतीक अहमद और अशरफ की कोर्ट में ही हत्या करना चाहते थे तीनों शूटर्स, इस वजह से बदला प्लान?



Source link