<p>रामपुर की स्वार सीट का उपचुनाव, सियासी महाभारत का नया गवाह बनने जा रहा है. ये सीट सपा नेता आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम की विधायकी रद्द होने की वजह से खाली हुई है. मुस्लिम बहुल इस सीट पर सपा की तरफ से एक हिंदू महिला को उम्मीदवार बनाना. भाजपा के चुनावी प्लान को झटका देने वाला है. हारी हुई बाजी को दोबारा जीतने के लिए अखिलेश यादव ने जो प्रयोग किया है. उसका असर दूर तक दिखाई देने वाला है.&nbsp;</p>



Source link