Punjab News: शिरोमणि अकाली दल (SAD) की नेता हरसिमरत कौर बादल ने बाढ़ की स्थिति पर चर्चा करने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान से विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग की है. हरसिमरत ने मंगलवार को कहा कि कि बाढ़ की यह त्रासदी ‘भगवंत ने बनाई है, भगवान ने नहीं.  शिअद की नेता ने मालवा बेल्ट में बाढ़-प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करने के बाद मानसा के उपायुक्त से संकट का सामना कर रहे लोगों की समस्याओं का तेजी से समाधान करने का आग्रह किया.

बादल ने CM मान पर साधा निशाना
सांसद हरसिमरत कौर बादल ने बुढलाडा और सरदूलगढ़ निर्वाचन क्षेत्रों के गांवों और सरदूलगढ़ शहर के विभिन्न वार्डों का दौरा किया.  बठिंडा से सांसद हरसिमरत कौर बादल ने मुख्यमंत्री भगवंत मान पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘सैकड़ों गांव और हजारों एकड़ फसलों वाली जमीन पानी में डूबी हुई है, जबकि आप संकटग्रस्त लोगों से दूर स्वर्ग में उड़ रहे हैं, जिनका एकमात्र पाप यह है कि उन्होंने अपना भाग्य आपके हाथों में सौंप दिया है.

बादल ने सीएम मान पर आरोप लगाते हुए कहा कि सीएम मान के पास अपने गैर-पंजाबी बॉस अरविंद केजरीवाल के साथ कर्नाटक सहित अन्य दूर-दराज के इलाकों में उड़ान भरने में व्यवस्त है, वो भी पंजाब के जनता के टैक्स के पैसों से. उन्होंने कहा कि ये देखकर दुख होता है कि सीएम मान ऐसा निर्दयी व्यवहार कर रहे है, राज्य के लोग बाढ़ से पीड़ित है उनकी जान जा रही है. वो केजरीवाल को बढ़ावा देने के लिए फ्लाइट से यात्रा कर रहे है.

सरकार से मदद ना मिलने से बढ़ा तनाव
विधानसभा का विशेष सत्र बुलाने की मांग करते हुए बादल ने कहा कि वो सिख तीर्थस्थलों पर नियंत्रण हासिल करने के और सिखों के धार्मिक मामलों में हस्तक्षेप करने के लिए विधानसभा का एक विशेष सत्र बुला सकते है तो बाढ़ की स्थिति पर चर्चा के लिए क्यों नहीं. बादल ने कहा कि मान गिरदावरी से पहले ही मुआवजा जारी करने की बात करते थे लेकिन 35 से ज्यादा लोगों की मौत के बाद भी उन्होंने अपना चेहरा नहीं दिखाया. सरकार से मदद ना मिलने से लोगों का तनाव बढ़ रहा है. प्रशासन लोगों की कोई मदद नहीं कर रहा तो लोग खुद ही अपने आप को बचाने के लिए संसाधन जुटा रहे है.

यह भी पढ़ें: Niti Aayog Report 2023: हरियाणा से इस मामले में पिछड़ गया पंजाब, नीति आयोग की रिपोर्ट में हुआ खुलासा



Source link